यह ब्लॉग खोजें

शनिवार, फ़रवरी 12, 2011

बेकार आदमी

बैंक वालो मुझे समझ नहीं आया
तरीका तुम्हारे व्यापार का,
मोहल्ले में जो आदमी था बेकार का
बना दिया तुमने मालिक उसको कार का