शनिवार, फ़रवरी 12, 2011

बेकार आदमी

बैंक वालो मुझे समझ नहीं आया
तरीका तुम्हारे व्यापार का,
मोहल्ले में जो आदमी था बेकार का
बना दिया तुमने मालिक उसको कार का

1 टिप्पणी:

Lucknow Ki Saans