यह ब्लॉग खोजें

बुधवार, मार्च 09, 2011

दया रही न बाकी,जब पहन ली है खाकी



यह चित्र मार्च नौ २०११ का है , समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता आनंद सिंह भदौरिया को लखनऊ के डीआई जी डी के ठाकुर ने बाल पकड़ कर खीचा और पैरों तले रौंदा। लेकिन जब सरकार बनेगी तब शायद ही भदौरिया जी को मंत्री पद मिले तब रिश्तेदारों को ही सर्वोपरि रखा जायेगा.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें